MP Gaon Ki Beti Yojana 2024: क्या है एमपी गांव की बेटी योजना ? ग्रामीण बेटियों को कितनी मिलेगी आर्थिक सहायता राशि? कैसे करें ऑनलाइन आवेदन?

MP Gaon Ki Beti Yojana 2024 : मध्यप्रदेश में राज्य की महिलाओं और बच्चियों के लिए सरकार द्वारा हर जरुरी कदम उठाएं जा रहे है। इसी तर्ज पर ग्रामीण बच्चियों को सश्कत बनाने के लिए सरकार द्वारा एमपी गांव की बेटी योजना की शुरुआत की गई है।इस योजना का मुख्य उद्देश्य गांव की बेटियों को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना है।इस योजना के तहत 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली बच्चियां जिनका उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों को हर महीने स्कॉलरशिप प्रदान की जाएगी जो उन्हें उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद करेगा और अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्ररित करेगा।इस योजना के तहत लड़कियों को सालाना 10 महीने तक हर माह 500 रुपए दिए जाएंगे।

क्या आप भी एमपी गांव की बेटी योजनी के लिए आवदेन करना चाहती है पर इस स्कीम की आपको ज्यादा जानकारी नहीं है तो आप सही जगह आई है। आज के इस लेख में हम आपको गांव की बेटी योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। जैसे कि क्या है एमपी गांव की बेटी योजना, इस योजना का क्या उद्देश्य है। इस योजना के लिए आवेदन कैसे करें, इसके लिए पात्रता क्या होगी आदि। अगर आप इस योजना के बारे में सब कुछ जानना चाहते है तो इस लेख को जरा भी मिस ना करें, तो चलिए शुरु करते हैं..

Also Read: क्या है मध्यप्रदेश की लाडली बहना योजना जो महिलाओं को बना रही सशक्त, हर महीने दे रही इतना पैसा, जानें

 एमपी गांव की बेटी योजना क्या है?

MP Gaon ki Beti योजना की शुरुआत मध्यप्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा विभाग द्वारा की गई है। इस योजना के तहत गांव में रहने वाली बालिकओं को उच्च शिक्षा के प्रति प्रेरित करने हेतु स्कॉलरशिप प्रदान की जाएगी।इस योजना के तहत पात्र बालिकओं को हर महीने 500 रुपए दिए जाएगा जो कि साल के दस महीने तक दिए जाएगा, इसका मतलब है कि इस योजना के तहत सालाना बालिकाओं को 5000 रुपए दिए जाएगें। इस योजना का लाभ उन सभी बालिकाओं को मिलेगा जिन्होंने 12 कक्षा में प्रथम श्रेणी हासिल की है।इस योजना का लाभ लेने के लिए बालिकाओं को स्टेट स्कॉलरशिप पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण करना होगा।

Also Read: क्या है लाडली लक्ष्मी योजना? क्या है इस स्कीम के फायदे? कैसे करें इसके लिए अप्लाई, जानें

एमपी गांव की बेटी योजना का उद्देश्य

एमपी गांव की बेटी योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश सरकार का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों की लड़कियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रेरित करना और उन्हें आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इससे न केवल लड़कियों की शिक्षा दर में वृद्धि होगी, बल्कि उन्हें सशक्त बनाने और ग्रामीण समुदायों के विकास में भी महत्वपूर्ण योगदान मिलेगा।एमपी गांव की बेटी योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों की बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना और उनके शैक्षणिक खर्चों में सहायता प्रदान करना है। इस योजना के कुछ उद्देश्य निम्नामुसार है-

  • ग्रामीण क्षेत्रों की बेटियों को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना और उन्हें इसके लिए आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  • शिक्षा से संबंधित खर्चों को पूरा करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना, ताकि आर्थिक कठिनाइयों के कारण कोई भी लड़की अपनी शिक्षा अधूरी न छोड़े।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में लड़कियों की उच्च शिक्षा में नामांकन और शिक्षा की दर को बढ़ाना।
  • शिक्षा के क्षेत्र में लड़कियों और लड़कों के बीच असमानता को कम करना और लड़कियों को भी समान अवसर प्रदान करना।
  • उच्च शिक्षा के माध्यम से लड़कियों का सशक्तिकरण और उनके व्यक्तिगत एवं व्यावसायिक विकास में योगदान देना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा के माध्यम से समग्र सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा देना।

Also Read: कैसे निकाले उत्तर प्रदेश में भूखण्ड / गाटे का यूनिक कोड? इस लेख में जाने पूरी प्रक्रिया

एमपी गांव की बेटी योजना के लाभ (Benefits)


प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग ने गांव की बेटी योजना का शुभारंभ किया है, जो गांव में रहने वाली बालिकाओं को कई तरह के लाभ प्रदान करती है जो कि कुछ इस प्रकार है-

  • इस योजना के जरिए ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाली बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए उन्हें छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • इस छात्रवृत्ति में उन्हें हर महीने ₹500, 10 माह तक हर साल प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ गांव की वह प्रत्येक बालिका ऊठा सकती है जिन्होंने 12वीं कक्षा प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण की है।
  • इस योजना के तहत मिलने वाले लाभ को प्राप्त करने के लिए छात्रों को किसी भी सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं है।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक  को स्टेट स्कॉलरशिप पोर्टल पर पंजीकरण करना जरुरी होगा इससे वह इस  योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।
  • ऑनलाइन आवेदन करने से समय और पैसे दोनों की बचत होगी और  प्रणाली में पारदर्शिता भी आएगी।
  • इस योजना से आवेदक को आर्थिक रुप से सशक्त बनने में मदद मिलेगी।

एमपी गांव की बेटी योजना पात्रता (Eligiblity)

  • आवेदक का  मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होनी जरुरी है।
  • आवेदक का ग्रामीण क्षेत्र से होना जरुरी है।
  • आवेदक द्वारा 12वीं कक्षा में 60% या फिर उससे ज्यादा अंक होना जरूरी है तभी वह इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।

Also Read: ऐसे देखें अपने गांव का नक्शा जाने आसान प्रक्रिया

एमपी गांव की बेटी योजना जरुरी दस्तावेज (Documents)

  • कक्षा 12 की मार्कशीट.
  • आयु प्रमाण पत्र.
  • अधिवास प्रमाणपत्र।
  • जाति प्रमाण पत्र.
  • माता-पिता का आय प्रमाण पत्र.
  • गांव की बेटी का प्रमाण पत्र.
  • समग्र आईडी.
  • वर्तमान कॉलेज कोड और शाखा कोड.
  • उम्मीदवार का मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी.
  • उम्मीदवार की पासपोर्ट आकार की तस्वीर।

एमपी गांव की बेटी योजना के लिए आवेदन (Apply)

  • सबसे पहले तो आपको स्कॉलरशिप पोर्टल पर जाना होगा, जोकि इस योजना के लिए मध्यप्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट है।
  • अब आपकी सक्रीन पर होम पेज खुल जाएगा
  • स्क्रीन पर खुले होम पेज पर आपको स्टूडेंट लॉगइन के विकल्प दिखेगा, आपको इस पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको रजिस्टर के ऑप्शन दिखेगा जिसपर आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खोल जाएगा।
  • फॉर्म में कुछ जानकारी पूछी जाएगी जैसे कि आपका नाम,कॉन्टेक्ट नंबर,इमेल आईडी जैसी जानकारी आपको सबमिट करनी होगी।
  • आपकी सभी जरुरी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना है।
  • दस्तावेज दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको अपना यूजरनेम पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • इसके बाद आपको गांव की बेटी योजना के अंतर्गत आवेदन करें का विकल्प दिखेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • अब आवेदन फॉर्म आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा।
  • अब फॉर्म में पूछी गई सभी जरुरी जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को आपको अपलोड करना होगा।
  • सभी जरुरी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज अपलोड करने होंगे इसके बाद आपको सबमिट करे के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह से आप गांव की बेटी योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

Also Read: कैसे निकालें जमीन का पुराना रिकॉर्ड UP में? जाने पूरी प्रक्रिया

Conclusion:

  • हम आशा करते है कि हमारे द्वारा लिखा गया ये लेख आपको पसंद आया होगा। अगर आपको हमारे लेख से जुड़े किसी भी प्रकार के प्रश्न है या फिर आप किसी तरह का सुझाव हमे देना चाहते है, तो आप कॉमेंट बॉक्स में अपना सवाल या सुझाव जरुर दर्ज करें। हमारी कोशिश रहेगी कि आपके सभी सवालों के जवाब जल्द दे सकें। आगे ऐसे और लेख पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट https://yojanadarpan.in/ पर रोज़ाना विज़िट करें।

FAQ’s:

Q.मध्य प्रदेश गांव की बेटी योजना क्या है?

Ans.मध्य प्रदेश गाँव की बेटी योजना छात्रवृत्ति ग्रामीण क्षेत्रों की लड़कियों की शिक्षा का समर्थन करने के लिए एक पहल है।

Q .एमपी गांव की बेटी योजना के क्या लाभ हैं?

Ans. ग्रामीण क्षेत्रों में लड़कियों को वित्तीय सहायता मिलेगी जिससे लड़कियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा।

Q.एमपी गांव की बेटी योजना के अंतर्गत लाभ राशि क्या है?

Ans.प्रत्येक वर्ष प्रत्येक गांव से 12वीं कक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करने वाली छात्राओं को 10 माह तक 500 रुपये प्रति माह की दर से छात्रवृत्ति दी जाती है।

Q.एमपी गांव की बेटी योजना के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

Ans. छात्रा को 12वीं की परीक्षा में 60% या अधिक अंक प्राप्त होने चाहिए और वह ग्रामीण क्षेत्र में रहती हो।

Q. क्या एमपी गांव की बेटी योजना केवल छात्राओं के लिए है और क्या इस योजना के लिए शहरी क्षेत्र की छात्राएं आवेदन कर सकती हैं ?

Ans.जी हाँ, यह योजना केवल छात्राओं के लिए है पर इस योजना के लिए शहरी क्षेत्र की छात्राएं आवेदन नहीं कर सकती हैं ।

Leave a Comment