Makar Sankranti Shayari : इस संक्रांति इन मकर संक्रांति शायरी हिंदी में 2024 के साथ और भी मीठा बनाएं अपना पर्व

Makar Sankranti Shayari: हर साल 14 या 15 जनवरी को हम मकर संक्रांति मनाते हैं। हम इस त्यौहार को मनाकर सूर्य के मकर राशि में प्रवेश का स्वागत करते हैं। हिंदी में मकर का अर्थ मकर होता है और संक्रांति का अर्थ सूर्य देव होता है, इसलिए इस दिन हम भगवान सूर्य की पूजा करते हैं। पूरे देश में लोग मकर संक्रांति को विभिन्न नामों से मनाते हैं। असम में यह माघ बिहू है, उत्तर प्रदेश में यह खिचड़ी है, गुजरात में यह है; यह उत्तरायण है और तमिलनाडु में इसे पोंगल के नाम से जाना जाता है। समृद्धि और खुशहाली लाने के लिए लोग जरूरतमंद लोगों को गेहूं और मिठाइयां दान करते हैं। यह त्यौहार तिल और गुड़ से बनी मिठाइयों और गजक और चिक्की जैसी मिठाइयों के साथ मनाया जाता है। इस दिन हम आसमान में उड़ती खूबसूरत पतंगों को देख सकते हैं। हिंदू धर्म में मकर संक्रांति  का जबरदस्त सांस्कृतिक महत्व है। मकर संक्रांति के दिन सभी लोग अपने दोस्तों या नजदीकी परिवार वालों को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं जरूर भेजते हैं।

मकर संक्रांति के पावन त्यौहार पर यदि आप अपने दोस्तों या परिवार वालों को Makar Sankranti New Shayari in Hindi भेजना चाहते हैं लेकिन आपको समझ में नहीं आ रहा है कि आप किस प्रकार अपने दोस्तों और परिवार वालों को मकर संक्रांति की शायरी व्हाट्सएप या फेसबुक के माध्यम से भेजेंगे तो आज के लेख में Makar Sankranti Shayari in Hindi 2024Sankranti Wishes Quotes बेहतरीन कलेक्शन आपके साथ साझा करेंगे आर्टिकल पर बने रहिएगा चलिए जानते हैं:- 

Makar Sankranti Shayari in Hindi 2024  

बंदे हैं हम देश के, हम पर किसका ज़ोर,

मकर संक्रान्ति में उड़े पतंगे चारों ओर,

लंच में खाएं फिरनी गोल,

अपना मांझा खुद सूतने आज हम चले छत की ओर 

सर्दी की इस सुबह पड़ेगा हमें नहाना

मकर संक्रांति का पर्व कर देगा मौसम सुहाना

दिन भर पतंग हमें है उड़ाना

कहि गुड़ खिन तिल के लड्डू मिलकर हमें है खाना

Happy Makar Sankranti

बिन सावन बरसात नहीं होती

सूरज दुबे बिन रात नहीं होती

अब ऐसी आदत हो गई है की

आपको Wish किये बिन किसी

त्योहार की शुरुवात नहीं होती

Happy Makar Sankranti

तन में मस्ती मन में उमंग

देकर सबको अपनापन गुड़ में जैसे मीठापन

होकर साथ हम उड़ायें पतंग और

भर ले आकाश में अपने रंग

Happy Makar Sankranti

सभी लोगों को मिले सन्मति

आज है मकर संक्रांति

मित्रों उठ गया है दिनकर

चलो उडाये पतंग मिलकर

Happy Makar Sankranti

पुराना साल जाता है नया साल आता है

साथ आप संक्रांति की खुशिया लता है

भगवान आप को वो खुशिया दे जो आप का दिल चाहता है

Happy Makar Sankranti

Also Read: जाने क्यों मनाया जाता है लोहड़ी का त्योहार, पढ़े लोहड़ी माता की कथा

मकर संक्रांति शायरी हिंदी में (Makar Sankranti Shayari)

सपनों को लेकर मन में
उड़ायेंगे पतंग आसमान में
ऐसी भरेगी उड़ान मेरी पतंग
जो भर देगी जीवन में खुशियों की तरंग

काट ना सके कभी कोई पतंग आप की,
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की,
छु लो आप जिंदगी की सारी कामयाबी
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकमाएँ!

मकर संक्रांति का त्यौहार सबने

अपनाया पंजाबी, हिन्दू, मुस्लिम,

सीख ईसाई सबने मिलकर मनाया,

गुड और तिल के पकवान को सबने

खाया बच्चों ने खूब पतंग को उड़ाया

Happy Makar Sankranti सबने दिल से दोहराया

पतंग पर शायरी (Shayari On Kites)

Shayari On Kites

मेरी पतंग जहां कटकर गिरे,

वह मंज़िल भी तुम।

मन के हर ज़ज़्बात को,

तस्वीर रंगों से बोलती है,

अरमानों के आकाश पर पतंग बेखौफ़ डोलती है।

 हर पतंग जानती है आखिर नीचे आना है,

लेकिन उससे पहले आसमान छूकर दिखाना है।

कटी पतंग का रुख तो था मेरे घर की तरफ,

मगर उसे भी लूट लिया ऊंचे मकान वालों ने।

मोहब्बत एक कटी पतंग है साहब,

गिरती वहीं है जिसकी छत बड़ी होती है।

सारी दुनिया को भुला के रूह को मेरे संग कर दो,

मेरे धागे से बंध जाओ, खुद को पतंग कर दो।

मोहब्बत की हवाओं में इश्क़ की पतंग हम भी उड़ाया करते थे
वक़्त गुजरता रहा और धागे उलझते रहे

छू लेती है अक्सर खुद ही ऊंचाइयों को
जो पतंग मांझे की मोहताज़ नहीं रहती

कटी पतंग सी हो गयी है ज़िंदगी
हर कोई लूटना चाहता है बस

हमने तेरी मोहब्बत आज इस जहां को दिखला दी,

नाम लिखकर पतंग पे तेरा आसमां में उड़ा दी।

आसमां में उड़ती एक पतंग दिखाई दी,

आज फिर मुझको तेरी मोहब्बत दिखाई दी…

 डोरी, पतंग, चरखी सब लिए बैठा हूं,

इंतजार है उस हवा का, जो तेरी छत की ओर चले।

छज्जे से अटकी थी वो पतंग, हल्ला मोहल्ले में था,

एक मांझे की डोर टूटी थी और ये किस्सा बचपन में था।

 मेरी पतंग भी तुम हो,

उसकी ढील भी तुम।

शायरी मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं

भगवान सूर्य देव और प्रकृति की उपासना के पावन पर्व #मकर_संक्रांति की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। यह त्योहार आपके जीवन में खुशी, समृद्धि और शांति लाये, यही कामना करता हूं। #MakarSankranti2024

तिल हम हैं और गुड़ आप,
मिठाई हम हैं और मिठास आप,
साल के पहले त्यौहार से हो रही है शुरुवात,
आपको हमारी तरफ से ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी,
टूटे ना कभी डोर आपके विश्वास की,
छू लों आप जिंदगी के सारे कामयाबी,
जैसे पतंग छूती है ऊंचाइयां आसमान की..
मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं!
Happy Makar Sankranti

उत्तरायण का सूर्य आपके स्वप्नों को नयी ऊष्मा प्रदान करे।
आपके यश एवं कीर्ति में उत्तरोत्तर वृद्धि हो।आप परिजनों सहित स्वस्थ रहें,दीर्घायु हों,
यही कामना है।

हम समाज में एकता,अखंडता और समरसता कर सशक्त भारत के निर्माण में सहयोगी बनें।
आप सभी को #मकर_संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ।

पूर्व में बीहू ,पश्चिम में उत्तरायण,
उत्तर में लोहड़ी, दक्षिण में भोगी पोंगल,
पर्व एक परंतु नाम अनेक
यही भारत की एकता-अखंडता यही भारत की संस्कृति है।
#मकर_संक्रांति के पावन पर्व की अनंत शुभकामनाएं।।

Happy Sankranti 2024 Shayari

गुड़ और तिल की मिठास, आसमान में उड़ान भरती पतंगों की आस, इस मकर संक्रांति आपके जीवन में ऐसा हो उल्लास। हैप्पी मकर संक्रांति!

चिंटू मुन्नू जल्दी आओ, तिल्ली के लड्डू गब-गब खाओ, लूटेंगे खूब पतंग इस बार, आया है मकर संक्राति का त्‍योहार। मकर संक्रांति की शुभकामनाएं!

उड़ी जो पतंग तो खिल गया दिल, गुड़ की मिठास में देखो मिल गया तिल, चलो आज उमंग-उल्लास में खो जाएं हम लोग

सजाएं थाली और लगाएं भगवान को भोग। Happy Makar Sankranti

तिल के लड्डू और गुड़ की मिठास, मुबारक हो आपको मकर संक्रांति का त्योहार।

मूंगफली दी खुशबू ते गुड़ दी मिठास , मक्की दी रोटी ते सरसों दा साग , दिल दी ख़ुशी ते अपने दा प्यार मुबारक होवे तुहानू मकर संक्रांति दा त्यौहार।

इस वर्ष की मकर संक्रांति, आपके लिए हो तिल लड्डू जैसी मीठी, मिले कामयाबी पतंग जैसी उंची, इसी कामना के साथ हैप्पी मकर संक्रांति!

तन में मस्ती, मन में उमंग, चलो आकाश में डाले रंग, हो जाए सब एक संग, और उड़ाएं पसंग। हैप्पी मकर संक्रांति!

हो आपकी लाइफ में खुशियाली, कभी न रहे कोई पहेली, सदा सुखी रहें आप और आपका फैमिली। मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं!

पल पल सुन्हेरे फूल खिलें, कभी न हो काटों का सामना, जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे, मकर संक्रांति पर यही है हमारी शुभकामना!

Also Read: स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय

मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं शायरी

संक्रांति शुभ हो तुम्हारे लिए, रिश्ते में गुड़ बना रहे तिल भर गम ना छू सके, पतंगों-सा मन मेरा उड़ता रहे तुम्हारे लिए, मेरे मन के आकाश पर तम्हारे प्रेम का आदित्य उत्तरायन हो, तुम्हारे मन के मैदान में मेरी खुशियों की गिल्ली उछलती रहे सतरंगी संक्रांति साकार हो हमारे लिए। हैप्पी मकर संक्रांति!

तिल हम हैं और गुड़ आप, मिठाई हम हैं और मिठास आप, साल के पहले त्यौहार से हो रही है शुरुआत, आपको हमारी तरफ से ढेर सारी मुराद

तन में मस्ती, मान में उमंग, देखकर सबका अपनापन, गुड़ में जैसे मीठापन, हो कर साथ हम उड़ाएंगे पतंग, आओ भर लें आकाश में अपने रंग…हैप्पी मकर संक्रांति 2024

खुशियों की आई हैं बहार, पतंग उडाने का चढ़ा हैं खुमार, तिल के लड्डू की हैं मिठास, आपको मुबारक हो संक्रांति का त्योहार!

सर्दी की इस सुबह पड़ेगा हमे नहाना , मकर सक्रांति का पर्व कर देगा मौसम सुहाना, दिन भर पतंग हमें है उड़ाना, कहीं गुड कहीं तिल के लड्डू, मिल कर हमें है खाना

दिल में है छायी मस्ती, मन में भरी है उमंग, उड़ती हैं पतंगें रंग बिरंगी, आसमान में छाया मकर संक्रांति का रंग। 

बासमती के चावल, उड़द की दाल, घी की खुशबू, आम का अचार, दही बड़े की महक और अपनों का प्यार, मुबारक हो आपको खिचड़ी का त्योहार। हैप्पी मकर संक्रांति!

उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको, खिलता हुआ फूल खुशबु दे आपको, हम तो कुछ देने के काबिल नहीं हैं, देने वाला हज़ार खुशियाँ दे आपको हैप्पी मकर संक्रांति!

पूर्णिमा का ‘चाँद, रंगों की ‘डोली’, चाँद से उसकी चांदनी बोली, खुशियो से भरे आपकी ‘झोली मुबारक हो आप को रंग बिरंगी ‘पतंग वाली ’ मकर संक्रांति।

ठंड की इस सुबह पड़ेगा हमें नहाना, क्योंकि संक्रांति का पर्व कर देगा मौसम सुहाना, कहीं जगह-जगह पतंग है उड़ना, कहीं गुड़ कहीं तिल के लड्डू मिल कर है खाना। 

Makar Sankranti 2024 Shayari Image

मकर संक्रांति पर यदि आप शायरी संबंधित इमेज प्राप्त करना चाहते हैं तो आर्टिकल में हम आपके बेहतरीन मकर संक्रांति शायरी इमेज का कलेक्शन उपलब्ध करवाएंगे जिससे आप चाहे तो डाउनलोड भी कर सकते हैं |

संक्रांति की शुभकामनाएं कोट्स | Sankranti Wishes Quotes 

जैसे ही हम 2024 का स्वागत करते हैं, आइए आकाश में पतंगों की तरह ऊंची उड़ान भरें। सभी को आनंदमय और समृद्ध मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

मकर संक्रांति 2024 का त्योहार आपके जीवन को गर्मजोशी, आनंद और प्रचुरता से भर दे। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

पतंगें ऊंची उड़ें और दिल खुश रहें। सभी को जीवंत मकर संक्रांति 2024 की शुभकामनाएं!

इस मकर संक्रांति पर गुड़ की मिठास और सूरज की गर्मी आपके जीवन को समृद्ध बनाए। शुभ 2024!

यह मकर संक्रांति है जो 2024 में नई शुरुआत और नई उम्मीदें लेकर आएगी। आप सभी को सुख और समृद्धि की शुभकामनाएं!

2024 का पहला त्योहार आशा और उत्साह के साथ मना रहा हूं। सभी को मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ

कामना है कि फसल उत्सव अच्छे समय और मुस्कुराहट से भरे वर्ष की शुरूआत करे। मकर संक्रांति 2024 की शुभकामनाएँ!

आइए इस मकर संक्रांति पर जीवन की खुशी और सूरज की गर्मी का जश्न मनाएं। सभी को आनंदमय 2024 की शुभकामनाएँ!

जैसे ही सूर्य उत्तर की ओर अपनी यात्रा शुरू करता है, वह आपके जीवन को सफलता और गौरव से रोशन करे। मकर संक्रांति 2024 की शुभकामनाएँ!

मकर संक्रां ति की भावना को अपनाते हुए, आइए इस वर्ष को सकारात्मक ऊर्जा और खुशियों से भरें। सभी को शानदार 2024 की शुभकामनाएँ!

मकर संक्रांति के स्टेटस | Makar Sankranti ke Status

मकर संक्रांति का त्यौहार सबने

अपनाया पंजाबी, हिन्दू, मुस्लिम,

सीख ईसाई सबने मिलकर मनाया,

गुड और तिल के पकवान को सबने

खाया बच्चों ने खूब पतंग को उड़ाया

Happy Makar Sankranti

सबने दिल से दोहराया. 

इस वर्ष की मकर संक्रांति,

आपके लिए हो तिल लड्डू जैसी मीठी !

मिले कामयाबी पतंग जैसी उँची,

इसी कामना वाली मकर संक्राति !

बासमती चावल हो और उड़द की दाल

घी की महकती खुशबू हो और

आम का आचार दहीबड़े की

सुगंध के साथ हो अपनों का प्यार

मुबारक हो आप सभी को

खिचड़ी का ये भीना त्यौहार

Happy Makar Sankranti 

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी,

टूटे ना कभी डोर विश्वास की,

छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी,

जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की।

मकर सक्रांति की हार्दिक शुभ कामनायें

हो आपके जीवन में खुशहाली,

कभी भी न रहे कोई दुख देने वाली पहेली,

सदा खुश रहें आप और आपकी Family, :

Happy Makar Sankranti

सारी दुनिया भूला के

रूह को मेरे संग कर दो

मेरे धागे से बंध

जाओ खुद को पतंग कर दो

पल पल सुनहरे फूल खिले,

कभी ना हो कांटों का सामना,

जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे,

संक्रांति पर हमारी यही शुभकामना

Happy Makar Sankranti

ऊँची पतंग से मेरी ऊँची उड़ान होंगी।

इस जहाँ में मेरे लिए मंजिले तमाम होंगी।

जब भी आसमान की और देखोगे तुम दोस्तों।

तुम्हारे ही हाथों मेरी डोर के साथ जान होंगी।

तिल्ली भी पीली और गुड़ में मिठास होंगी।

मकर सक्रांति पर्व पर मेरी

तरफ से बधाइयाँ बार बार होंगी। 

मकर संक्रांति स्टेटस हिंदी में | Makar Sankranti Status in Hindi

आप पर सूर्य देवता के

आशीर्वाद की कृपा बनी रहे

और आपका जीवन खुशी

की अनन्त सूर्य किरणों से भर जाए

दिल को धडकन से पहले
दोस्तों को दोस्ती से पहले
प्यार को मोहब्बत से पहले
ख़ुशी को गम से पहले
आपको कुछ दिन पहले
मकरसक्रांति की सुभकामना सबसे पहले

अंगूठा बचाये रखना

पतंग तो 2 दिन है

पर व्हॉट्सऐप फेसबुक तो

363 दिन है…

खास करके

Loves – सूचना जनहित में जारी 

सपनों को लेकर मन में

उड़ाएंगे पतंग आसमान में

ऐसी भरेगी उड़ान मेरी पतंग

जो भर देगी जीवन में खुशियों की तरंग।

हैप्‍पी मकर संक्रांति !!!

मकर संक्रांति की शुभकामनाएं हिंदी में | Makar Sankranti Ki Shubhkamnaye in Hindi

आपको और आपके परिवार को सुख और समृद्धि की शुभकामनाएं। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

मकर संक्रांति पर सूर्य आपके जीवन में हमेशा शांति, समृद्धि और खुशियाँ बिखेरें।

जैसे ही सूर्य उत्तरी गोलार्ध में गोचर करेगा, यह आपके जीवन में खुशी और सफलता लाएगा। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

इस शुभ दिन पर, तिल और गुड़ की मिठास आपके जीवन में मिठास लाए। शुभ संक्रांति!

आपको मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ भेज रहा हूँ! आपके सपनों की पतंगें सफलता के आकाश में ऊंची उड़ान भरें।

मकर संक्रांति का त्योहार आपके जीवन को चमक, आनंद और समृद्धि से भर दे। शुभ उत्तरायण!

आपको और आपके परिवार को खुशी, हँसी और स्वादिष्ट तिल-गुड़ मिठाइयों से भरे दिन की शुभकामनाएँ। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

जैसे ही सूर्य उत्तर की ओर अपनी यात्रा शुरू करता है, आपका जीवन भी ऊपर की ओर बढ़ने लगे। शुभ संक्रांति!

खुशियों की पतंगें ऊंची उड़ान भरें और समृद्धि की हवाएं आपका मार्गदर्शन करें। आपको मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!. 

मकर संक्रांति का आशीर्वाद आपके और आपके प्रियजनों के लिए अच्छे समय का आगमन करे। शुभ उत्तरायण!

हैप्पी संक्रांति हिंदी में | Happy Sankranti in Hindi

इस संक्रांति पर आपको खुशियों से भरे आकाश और खुशियों की फसल की शुभकामनाएँ..!

आपके जीवन में सफलता और समृद्धि की पतंगें ऊंची उड़ान भरें। शुभ संक्रांति!

जैसे ही सूर्य उत्तर की ओर अपनी यात्रा शुरू करता है, यह आपके दिनों में रोशनी और सकारात्मकता लाए। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

हंसी, प्यार और पारंपरिक आनंद से भरे त्योहारी सीजन की हार्दिक शुभकामनाएं। शुभ संक्रांति!

बदलाव की बयार आपके लिए नए अवसर लेकर आए और तिल-गुड़ की मिठास आपके जीवन में भर दे। शुभ उत्तरायण!”

आपको रंगीन और आनंदमय मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ भेज रहा हूँ। आपके सपने आकाश में पतंगों की तरह उड़ें!

मकर संक्रांकि की शायरी (Makar Sankranti Ki Shayari)

दिल को धडकन से पहले

दोस्तों को दोस्ती से पहले

प्यार को मोहब्बत से पहले

ख़ुशी को गम से पहले

आपको कुछ दिन पहले

मकर सक्रांति की सुभकामना सबसे पहले

तन में मस्ती, मन में उमंग
देकर सबको अपनापन
गुड में जैसे मीठापन
होकर साथ हम उड़ाएं पतंग
और भर ले आकाश में अपने रंग

बिन बादल बरसात नहीं होती,

सूरज के उगे बिना दिन की शुरुआत नहीं होती!

हम जानते है हमारे बिना विश की आप की

कोई त्यौहार शुरुआत नहीं होती,

आप सभी को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभ

मकर संक्रांति का स्टेटस | Makar Sankranti Whatsapp Status

प्रकाश और गर्मजोशी का यह दिन हमारे परिवार के लिए असीम आशीर्वाद और अनंत खुशियाँ लेकर आए। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ

इस मकर संक्रांति पर, आइए हम अपने परिवार की गर्मजोशी और एकजुटता का जश्न मनाने और उसे संजोने के लिए एक साथ आएं। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ

कामना करता हूं कि इस फसल उत्सव की मिठास हमारे परिवार में प्यार, हंसी और शाश्वत खुशियां लाए। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

मैं प्रार्थना करता हूं कि इस शुभ अवसर का आशीर्वाद हमारे घर और दिलों को समृद्धि, सफलता और खुशी से भर दे। हमारे परिवार को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ!

जैसे-जैसे पतंगें आसमान में ऊंची उड़ान भरती हैं, हमारे पारिवारिक रिश्ते मजबूत होते जाएं और हमारी खुशियां बढ़ती जाएं। मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ!

मकर संक्रांति की भावना हमारे परिवार को गर्मजोशी, शांति और सकारात्मकता से भर दे। मकर संक्रांति मंगलमय और मंगलमय हो

हम सभी हर गुजरते दिन के साथ एक परिवार के रूप में अधिक मजबूत, समझदार और एकजुट होते जाएं। हमारे अद्भुत परिवार को मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर हमारे परिवार को प्रचुर प्रेम, स्वास्थ्य और समृद्धि की शुभकामनाएँ!

आइए प्रेम और उत्साह के साथ मिलकर मकर संक्रांति की उत्सव भावना का आनंद लें, ऐसी यादें बनाएं जिन्हें हम हमेशा संजोकर रखेंगे। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

अपने प्रिय परिवार को, मैं मकर संक्रांति पर अपनी हार्दिक और हार्दिक शुभकामनाएँ भेजता हूँ। यह त्योहार हमें करीब लाए और हमारे जीवन को अनंत खुशियों से भर दे।

आइए एकजुटता की गर्माहट और इस फसल के मौसम की खुशी का जश्न मनाएं। हमारे परिवार को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ!

मकर संक्रांति शायरी (Makar Sankranti Shayari 2024)

ख़ुशी का है यह मौसम,

गुड और टिल का है यह मौसम,

पतंग उड़ाने का है यह मौसम,

शांति और समृद्धि का है यह मौसम 

सर्दी की इस सुबह पड़ेगा हमे नहाना

मकरसक्रांति का पर्व कर देगा मोसम

सुहाना दिन भर पतंग हमें है

उड़ाना कहीं गुड कही तिल के

लड्डू मिल कर हमें है खाना 

जैसे सूर्योदय के होते ही अंधकार दूर हो जाता है

वैसे ही मन की प्रसन्नता से सारी बाधाएँ शांत हो जाती हैंसभी को मकरसंक्राँति की हार्दिक शुभकामनाएँ

ऊँची पतंग से मेरी ऊँची उड़ान होंगी।

इस जहाँ में मेरे लिए मंजिले तमाम होंगी।

जब भी आसमान की और देखोगे तुम दोस्तों।

तुम्हारे ही हाथों मेरी डोर के साथ जान होंगी।

तिल्ली भी पीली और गुड़ में मिठास होंगी।

मकर सक्रांति पर्व पर मेरी तरफ से बधाइयाँ बार बार होंगी। 

पतंगों का नशा,

मांझे की धार,

सर्दी की मार,

फिर भी दिल है बेक़रार,

मुबारक हो आपको पतंगों का त्यौहार

“हैप्पी मकर संक्रांति” 

मकर संक्रांति हिंदी शायरी में (Makar Sankranti Hindi New Shayari)

सब दोस्तों को मिले सहमती आज है

मकरसंक्रांति स्वीट दोस्त उग गये

दिनकर उडाए पतंग हम सुब मिलकर

आकाश हो पतंग से अट्टे सुनाओ वो मारा वो काटा

पूर्णिमा का चाँद रंगों की डोली

चाँद से उसकी चांदनी बोली

खुशियों से भरे आपकी झोली

मुबारक हो आप को रंग बिरंगी

‘पतंग वाली ‘ “मकर संक्रांति”

हैप्पी संक्रांति 

सोचा किसी अपने से बात करे अपने

किसी खाश को याद करे किया जो

फैसला मकरसंक्रांति की सुभकामनाये

देने का दिल ने कहा क्यों न अपने से शुरुवात करे

अपनों का प्यार और ये बहार…

बासमती चावल हों और उड़द की दाल घी

की महकती खुशबू हो और आम का अचार

दहीबड़े की सुगंध के साथ हो अपनों का

प्यार मुबारक हो आप सभी को खिचड़ी

का ये भीना त्योहार…

Happy Makar Sankranti

मोहब्बत एक कटी पतंग है जनाब..,

गिरती वही है जिसकी छत बड़ी होती है…!!!

मकर संक्रांति शायरी हिंदी में (Makar Sankranti Shayari in Hindi)

सुंदर कर्म, शुभ पर्व

हर पल सुख और हर दिन शान्ति

आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति 

हो आपके जीवन में खुशियाली, कभी भी न रहे

कोई दुख देने वाली पहेली,

सदा खुश रहें आप और आपकी Family,

Happy Makar Sankranti 

आप को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं..

“यादें अक्सर होती है सताने के लिए,

कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए

रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नही,

बस दिलो में प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए!!!!!”

सोचा किसी अपने से बात करें,

अपने किसी खास को याद करें,

किया जो फैसला मकर संक्रांति की

शुभकामनाएं देने का,

दिल ने कहा क्यों ना शुरूआत आपसे करें।

मीठी बोली मीठी जुबान

मकरसंक्रांति का है ये ही पैगाम 

खुले आसमा में जमी से बात न करो..

ज़ी लो ज़िंदगी ख़ुशी का आस न करो..

हर त्यौहार में कम से कम हमे न भूलो करो..

फ़ोन से न सही मैसेज से ही

संक्राति विश किया करो !! 

कुछ का नसीब बदलेगा,

यह साल का पहला पर्व होगा,

जब हम सब मिल कर खुशियाँ मनाएंगे –

हैप्पी मकर संक्रांति 

हैप्पी मकर संक्रांति शायरी | Happy Makar Sankranti Shayari

सजने लगी है आरती की थाली…

मंदिर में बजने लगी हैं घंटियां और सजने लगी हैं

आरती की थाली सूर्य की रोशन किरणों के

साथ अब तो सुनाई देती है एक ही बोली.

मकर संक्रांति की शुभकामनाएं 

तिल हम हैं और गुड़ आप,

मिठाई हम हैं और मिठास आप,

साल के पहले त्योहार से हो रही है शुरुआत,

आपको हमारी तरफ से ढे़र सारी मुराद 

मंदिर की घंटी, पूजा की थाली

नदी के किनारे, सूरज की लाली

जिंदगी में आये खुशियों की हरियाली

आपको मुबारक हो संक्रांति का त्यौहार 

गुड़ और तिल की मिठास आसमां में कुलांचें

भरती पतंगों की आस इस संक्रांति आपके

जीवन में ऐसा ही हो उल्लास.

Happy Makar Sankranti

इस वर्ष की मकर संक्रांति,

आपके लिए हो तिल लड्डू जैसी मीठी !

मिले कामयाबी पतंग जैसी उँची,

इसी कामना वाली मकर संक्राति !! 

दिल में है छायी मस्ती

मन में भरी है उमंग

उड़ती हैं पतंगें रंग बिरंगी

आसमान में छाया मकर संक्रांति का रंग 

त्यौहार नहीं होता अपना पराया,

त्यौहार है वही जिसे सबने मनाया,

तो मिला के गुड़ में तिल,

पतंग संग उड़ जाने दो दिल। 

बचपन में वो धूम मचाना, मौज मनाना

यारो के साथ पतंगे उड़ाना

बहुत सही था यार वो ज़माना

मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनायें 

दिल को धडकन से पहले दोस्तों को दोस्ती

से पहले प्यार को मोहब्बत से पहले ख़ुशी

को गम से पहले आपको कुछ दिन

पहले मकरसक्रांति की सुभकामना सबसे पहले

मकर संक्रांति की शुभकामनाएं (Makar Sankranti Wishes)

जैसे-जैसे पतंगें आसमान में ऊंची उड़ान भरती हैं, अपनी आकांक्षाओं को नई ऊंचाइयों तक पहुंचने दें। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ 

संक्रांति की हवाएँ आपकी चिंताओं को दूर कर दें और सकारात्मकता और आनंद का मौसम लाएँ।

जीवन की बदलती हवाओं को प्रसन्न हृदय से स्वीकार करें। शुभ उत्तरायण!

जैसे पतंगें हवा के प्रतिरोध पर विजय प्राप्त करती हैं, वैसे ही आप लचीलेपन के साथ चुनौतियों पर विजय प्राप्त करें। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ!

अपनी आत्मा को पतंग की तरह ऊंची उड़ान भरने दें, अवसरों के असीमित आकाश तक पहुंचने दें। शुभ संक्रांति!

जीवन की यात्रा में, आपको हमेशा धाराओं के विरुद्ध उठने की शक्ति मिलती रहे। मकर संक्रांति की शुभकामनाएँ

मकर संक्रांति कोट्स | Makar Sankranti Quotes

त्यौहार नहीं होता है अपना पराया,

त्योहार वही जिसे सबने मनाया,

तो मिला के गुढ़ में तिल,

पतंगन संग उड़ जाने दो दिल,

हैप्पी मकर संक्रांति 

मूंगफली दी खुशबू ते गुड दी मिठास

मक्की दी रोटी ते सरसों दा साग

दिल दी ख़ुशी ते अपनेय दा प्यार

मुबारक होवे तुहानू मकरसंक्रांति दा त्यौहार 

बाजरे की रोटी, नींबू का अचार

सूरज की किरणें, चांद की चांदनी

और अपनों का प्यार, हर जीवन हो खुशहाल

मुबारक हो आपको मकर संक्रांति का त्योहार।

बाहर देखो !

मौसम खुशमिजाज़ है,

सूर्य हंस रहा है,

पेड़ पौधे नाच रहे हैं,

चिड़िया गा रहे हैं,

क्योंकि आपको

मकर संक्रांति की शुभकामनायें देने के लिए,

हमने उन्हें कहा है ! 

सभी लोगों को मिले सन्मति,

आज है मकर संक्रांति,

मित्रों उठ गया है दिनकर,

चलो उडाये पतंग मिलकर

Happy Makar Sankranti.

बिन सावन बरसात नहीं होती

सूरज डूबे बिना रात नहीं होती

अब ऐसी आदत हो गई है कि

आपको विश किए बिन किसी

त्योहार की शुरुआत नहीं होती।

मकर संक्रांति की शुभकामनाएं! 

मंदिर की घंटी आरती की थाली

नदी के किनारे सूरज की लाली

ज़िन्दगी में आये खुशियों की बहार

मुबारक हो आपको

मकरसंक्रांति का यह त्यौहार!! 

मकर संक्रांति पर्व 2024 (Makar Sankranti Festival)

मकर संक्रांति हर साल 14 जनवरी को पूरे उत्साह के साथ मनाई जाती है। यह सूर्य देव के मकर राशि या मकर राशि में संक्रमण का प्रतीक है। पतंग उड़ाना इस त्यौहार की मुख्य परंपरा है। कई स्थानों पर मनोरंजन को बढ़ाने के लिए पतंग उड़ाने की प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। और, मिठाइयाँ! गुड़ और तिल से बने लड्डू बांटकर खुशियां बांटते हैं । इस दिन लोग गजक और चिक्की भी खाते हैं। जीवन में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए लोग जरूरतमंद लोगों को मिठाई और गेहूं का दान करते हैं। इस त्यौहार को पूरा देश अलग-अलग नामों से मनाता है। हालाँकि अलग-अलग राज्य इसे अलग-अलग नामों से मनाते हैं, लेकिन इसे मनाने के पीछे मुख्य उद्देश्य शांति, सद्भाव, समृद्धि और खुशी फैलाना है।

Conclusion:

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल आपको पसंद आएगा आर्टिकल संबंधित अगर आपका कोई भी अहम सुझाव या प्रश्न है तो आप कमेंट सेक्शन में जाकर पूछ सकते हैं उसका उत्तर हम आपको जरूर देंगे तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल में 

FAQ’s: Makar Sankranti Shayari

Q. 2024 में मकर संक्रांति कब है?

Ans. 2024 में मकर संक्रांति 15 जनवरी सोमवार को मनाया जाएगा।

Q. हिंदू पंचांग के अनुसार मकर संक्रांति कब है?

Ans. जिस दिन सूर्य देव मकर राशि में प्रवेश करेंगे उसी दिन मकर संक्रांति मनाई जाएगी. हिंदू पंचांग के अनुसार इस बार सोमवार 15 जनवरी 2024 को मकर संक्राति मनाई जाने वाली हैं।

Q. मकर संक्रांति महा पुण्य काल  कब से कब तक रहेगा? 

Ans. मकर संक्रांति महा पुण्य काल – प्रातः 07:10  बजे  से  प्रातः 09:01  बजे तक  रहेगा

Leave a Comment