Circle Rate List 2024 | सभी राज्यों की सर्किल रेट ऑनलाइन कैसे चेक करें? (संपत्ति का सर्किल रेट का फार्मूला)

सभी राज्यों की सर्किल रेट ऑनलाइन कैसे चेक करें? Circle Rate List 2024:- अगर आप लोग किसी भी राज्य के क्षेत्र में कोई संपत्ति खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो पहले आप लोगों को उसे राज्य के क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी होना काफी आवश्यक है संपत्ति के कई रूप हो सकते हैं जैसे कमर्शियल, कृषि भूमि, आवासीय जमीन ,बहु मंजिला अपार्टमेंट इत्यादि इन सभी प्रकार के संपत्तियों का सर्किल रेट की जानकारी रखना इसलिए आवश्यक है  कि इन संपत्तियों का रजिस्ट्री के दौरान होने वाले खर्च की जानकारी प्राप्त हो जाता है पहले हम लोग किसी संपत्ति का सर्किल रेट जानकारी प्राप्त करने के लिए अपने नजदीकी रजिस्ट्री ऑफिस जाकर रजिस्ट्री विभाग से मिलना पड़ता था तब हमें रजिस्ट्री विभाग के द्वारा उस संपत्ति का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त होता था |

लेकिन वर्तमान समय में अब आप लोग घर बैठे आसानी पूर्वक किसी भी राज्य का सर्किल रेट की जानकारी ऑनलाइन के माध्यम से देख सकते हैं तो मैं आप लोगों को इस आर्टिकल के माध्यम से किसी भी राज्य का सर्किल रेट की जानकारी ऑनलाइन कैसे देखें इसकी जानकारी मैं आप लोगों को विस्तार पूर्वक प्रदान करूंगा इसलिए मैं आपको से निवेदन करता हूं कि आप लोग हमारी इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े:-

Circle Rates List 2023

About ArticleCircle Rates 2023
StateAll States
सर्किल रेट तय की जाती हैराज्य सरकार द्वारा
सर्किल रेट देख सकते हैऑनलाइन
सर्किल रेट में बदलाव होता हैजी हाँ
ऑफिसियल वेबसाइटनीचे दी गई हैं

सर्किल रेट क्या होता है? Circle Rate Kya Hai

जब हम लोग किसी राज्य के किसी संपत्ति को खरीदते  हैं तो उसे संपत्ति पर कानूनी अधिकार प्राप्त करने के लिए  रजिस्ट्री करवाते हैं इस रजिस्ट्री के समय राज्य सरकार के द्वारा राजस्व कर के तौर पर रजिस्ट्री चार्ज एवं स्टांप ड्यूटी शुल्क लिया जाता है और यह राजस्व कर उसे क्षेत्र के सर्किल रेट के ऊपर निर्भर करता है अर्थात  अगर आप लोगों को किसी राज्य का संपत्ति का रजिस्ट्री करने के दौरान होने वाले खर्चो की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको पहले उसे क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त करना होगा सर्किल रेट को अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है |

सर्किल रेट को प्रति वर्ग मीटर के द्वारा आकलन किया जाता है अगर आप लोग प्रति वर्ग मीटर खरीदने हैं तो उस संपत्ति का न्यूनतम राशि निर्धारित कर दिया जाता है जिसे हम लोग साधारण भाषा में सर्किल रेट कहते हैं उदाहरण के लिए हिमाचल प्रदेश राज्य के शिमला जिले के बागरा क्षेत्र में आवासीय  संपत्ति खरीदने पर रुपया 5,00,900 प्रति वर्ग मीटर एवं कमर्शियल संपत्ति खरीदने पर रुपया 10,10,700 प्रति वर्ग मीटर सर्किल रेट देना पड़ सकता है |

इन्हें भी पढ़ें:-जमीन का सरकारी रेट क्या है? और कैसे रेट का पता करें?

जमीन के सर्किल रेट को तय करने वाले कारक

जब किसी जमीन का सर्किल रेट को तय किया जाता है तो कुछ महत्वपूर्ण कारक को ध्यान में रखकर उसे क्षेत्र का सर्किल रेट निर्धारित किया जाता है इन महत्वपूर्ण कारकों में से कुछ कारक निम्नलिखित है:-

  • बाजार मूल्य:- अगर आप लोग कोई संपत्ति ऐसे क्षेत्र में खरीद रहे हैं जो शहरी क्षेत्र हो एवं क्षेत्र के आसपास कई प्रकार की सुविधा उपलब्ध हो जैसे उसे क्षेत्र के आसपास अच्छी यातायात के साधन हो, हॉस्पिटल मौजूद हो, शॉपिंग कंपलेक्स इत्यादि ऐसे क्षेत्र के संपत्ति का बाजार मूल्य अधिक होता है और ऐसे में बाजार मूल्य अधिक होने से इस क्षेत्र के संपत्ति का सर्किल रेट भी अधिक होगा
  • कमर्शियल संपत्ति:- अगर आप लोग कोई संपत्ति बिजनेस करने के उद्देश्य से खरीद रहे हैं तो उसे संपत्ति का सर्किल रेट अधिक होगा
  • संपत्ति के आसपास की सुविधा:- अगर आप लोग संपत्ति ऐसे क्षेत्र में खरीद रहे हैं जहां पर उस क्षेत्र के आसपास कई प्रकार की सुविधा उपलब्ध होगी ऐसे में उस क्षेत्र का संपत्ति का सर्किल रेट अधिक होगा |

इन्हें भी पढ़ें:-बिहार में ऑनलाइन जमीन का सर्किल रेट कैसे देखें?

सर्किल रेट की गणना किस प्रकार की जाती है?

मैं आप लोगों के जानकारी के लिए यह बता दु की सभी क्षेत्रों का सर्किल रेट एक समान नहीं होता है सर्किल रेट सरकार के द्वारा निर्धारित किया जाता है सर्किल रेट में समय-समय पर बदलाव हो सकते हैं क्योंकि सर्किल रेट को अनेक प्रकार के कारक प्रभावित करते हैं जैसे-जैसे संपत्ति का बाजार मूल्य बढ़ेगा उसी के आधार पर सर्किल रेट में वृद्धि होगी साधारण भाषा में मैं आप लोगों को बता दूं कि सर्किल रेट की गणना इस फार्मूले के द्वारा आप लोग कर सकते हैं:-

संपत्ति का मूल्य = निर्मित क्षेत्र( वर्ग मीटर में) × इलाके के लिए सर्किल दर (रुपए प्रति वर्ग मीटर में)

सभी राज्यों की सर्किल रेट ऑनलाइन कैसे चेक करें? Circle Rate List 2024

इसी प्रकार आप नीचे दी गई सारणी में अपने राज्य का चुनाव कर सकते हैं और इसमें सर्किल रेट देखने की प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हैं:-

All States Circle Rate :लिंक
राजस्थान (Rajasthan)यह भी पढ़ें
उत्तरप्रदेश (UP)यह भी पढ़ें
बिहार (Bihar)यह भी पढ़ें
दिल्ली (Delhi)यह भी पढ़ें
उत्तराखंड (Uttarakhand)यह भी पढ़ें
हरियाणा (Haryana)यह भी पढ़ें
हिमाचल प्रदेश (HP) यह भी पढ़ें
छत्तीसगढ़ (CG)यह भी पढ़ें
झारखण्ड (Jharkhand)यह भी पढ़ें
महाराष्ट्र (Maharashtra)यह भी पढ़ें
मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh)यह भी पढ़ें
पंजाब (Punjab)यह भी पढ़ें

संपत्ति का सर्किल रेट (Circle Rate) कैसे जानकारी प्राप्त करें

किसी भी प्रकार के संपत्ति का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त करने के लिए लोग पहले सरकारी दफ्तरों का चक्कर लगाते थे लेकिन वर्तमान समय में अब आप लोग घर बैठे आसानी पूर्वक ऑनलाइन के माध्यम से किसी भी राज्य के संपत्ति का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि प्रत्येक राज्य ऑफिशल पोर्टल लॉन्च किया है इस पोर्टल पर सर्किल रेट संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध होता है इस पोर्टल पर आप लोग अपने तहसील ग्राम पंचायत कॉलोनी क्षेत्र  को सेलेक्ट करके उसे क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे लेकिन कुछ राज्य ऐसे हैं जो अपने राज्य में जिला के अनुसार ऑफिशल पोर्टल लॉन्च किए हैं जैसे उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़ इन सभी राज्यों के जिला के अनुसार ऑफिशल पोर्टल पर आप लोगों को विजिट करके उस राज्य के उस जिले संबंधित क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे |

इन्हें भी पढ़ें:-Bihar Property Registration (ई-पंजीकरण) 2023

सर्किल रेट को ऑनलाइन कैसे चेक करें? (Circle Rate Online Check)

किसी भी राज्य में संपत्ति को खरीदने से पहले उस राज्य के संपत्ति का सर्किल रेट की जानकारी होना काफी आवश्यक है अर्थात अब आप लोग किसी भी राज्य क्या संपत्ति का सर्किल रेट को ऑनलाइन आसानी पूर्वक घर बैठे चेक कर सकते हैं ऑनलाइन के माध्यम से सर्किल रेट को चेक करने के लिए कुछ प्रक्रिया है उपलब्ध होती है अर्थात मैं आप लोगों को समझने के लिए बिहार राज्य का उदाहरण लेता हूं बिहार राज्य के संपत्ति का (MVR) सर्किल रेट लिस्ट की ऑनलाइन चेक करने के लिए नीचे दिए गए प्रक्रियाओं को फॉलो करें :-

  • सबसे पहले आप लोगों को बिहार राज्य के ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करना होगा
  • इसके बाद इस आधिकारिक वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाएगा  इस होम पेज पर आप लोगों को View MVR के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |
  • इसके बाद आप लोगों को कुछ जानकारी भरना होगा जैसे रजिस्ट्रेशन ऑफिस को सेलेक्ट करें, सर्किल (क्षेत्र) का नाम दर्ज करे, थाना का कोड, प्रॉपर्टी का प्रकार को सेलेक्ट करें |
  • इसके बाद आप लोगों के सामने एक नया पेज ओपन होगा इस पेज पर आप लोगों को क्षेत्र का सर्किल रेट, Minimum Value , रजिस्ट्रेशन फीस, स्टांप ड्यूटी की लिस्ट दिखाई देगी |

ऊपर दिए गए प्रक्रियाओं के द्वारा आप लोग बिहार राज्य के संपत्ति का सर्किल रेट(MVR) ऑनलाइन चेक कर सकते हैं |

निष्कर्ष

उम्मीद करता हूं कि हमारे द्वारा लिखा गया आर्टिकल सभी राज्यों का सर्किल रेट लिस्ट ऑनलाइन कैसे चेक करें संबंधित जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान की गई है जो आप लोगों को काफी पसंद आया होगा ऐसे में आप हमारे इस आर्टिकल संबंधित कोई प्रश्न आपके मन में है तो आप लोग हमारे कमेंट बॉक्स में आकर अपने प्रश्नों को पूछ सकते हैं मैं आप लोगों के प्रश्नों का जवाब जरूर दूंगा

FAQ’s: Circle Rate List 2024

Q. संपत्ति का सर्किल रेट निकालने का फार्मूला क्या होता है?

Ans.संपत्ति का सर्किल रेट निकालने का फार्मूला निम्न होता है:-

संपत्ति का मूल्य = निर्मित क्षेत्र (वर्ग मीटर में) x क्षेत्र के लिए सर्कल दर (रुपये प्रति वर्ग मीटर में)

Q. किसी भी राज्य के क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी कैसे प्राप्त करें?

Ans.किसी भी राज्य के क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त करने के लिए राज्य सरकार के स्टांप ड्यूटी शुल्क एवं राजस्थान विभाग के द्वारा एक ऑफिशल पोर्टल का शुभारंभ किया गया है इन प्रकार के ऑफिशल पोर्टल पर आप लोग विजिट करके उस राज्य के क्षेत्र का सर्किल रेट की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

Q. सर्किल रेट को बिहार राज्य में किस नाम से जाना जाता है?

Ans.सर्किल रेट को बिहार राज्य में MVR  के नाम से जाना जाता है इसका फुल फॉर्म Minimum Value Rate  होता है |

Leave a Comment